अजीनोमोटो क्या है फायदे नुकसान जानिए | Ajinomoto in Hindi

Ajinomoto in Hindi, हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का आज की हमारे इस नए पोस्ट में आज हम बात करने वाले है अजीनोमोटो क्या है फायदे नुकसान जानिए | Ajinomoto in Hindi, अजीनोमोटो को संक्षिप्त रूप में MSG भी बुलाया जाता है। इस पदार्थ का उपयोग भोजन का स्वाद बढ़ाने हेतु किया जाता है।

क्या आपने अजीनोमोटो का नाम कई बार सुना है? अजीनोमोटो खाने में डलने वाला पदार्थ जिसका इस्तेमाल आमतौर पर चाइनीज खाने में किया जाता है जैसे कि नूडल्स, सूप आदि। खाने में स्वाद बढ़ाने के लिए अजीनोमोटो का इस्तेमाल किया जाता है। कई बार आप सोचते होंगे कि घर में बनाए गए चाइनीज खाने का स्वाद होटल में मिलने वाले चाइनीज खाने की तरह क्यों नहीं हो पाता है।

अजीनोमोटो क्या है फायदे नुकसान जानिए | Ajinomoto in Hindi

आज आप इस आर्टिकल से अजीनोमोटो के फायदे, नुकसान और उपयोग से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसको संक्षिप्त में हम एमएसजी नाम से भी जानते है. अजीनोमोटो की कंपनी का मुख्य कार्यालय चोओ, टोक्यो में स्थित है. यह 26 देशों में काम करता है. इसका इस्तेमाल ज्यादातर चीन की खाद्य पदार्थो में खाने के स्वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है|

हले हम अधिकांशतः घर पर बने खाने को खाते थे, लेकिन अब लोग चिप्स, पिज्ज़ा और मैगी जैसे खाने को ज्यादा पसंद करने लगे है जिनमे अजीनोमोटो का इस्तेमाल होता है. इसका इस्तेमाल कई डिब्बाबंद फ़ास्ट फ़ूड सोया सॉस, टोमेटो सॉस, संरक्षित मछली जैसे सभी संरक्षित खाद्य उत्पादों में किया जाता है |

अजीनोमोटो को पहली बार 1909 में जापानी जैव रसायनज्ञ किकुनाए इकेडा के द्वारा खोजा गया था. उन्होने इसके स्वाद को मामी के रूप में पहचाना जिसका अर्थ होता है सुखद स्वाद. कई जापानी सूप में इसका इस्तेमाल होता है. इसका स्वाद थोडा नमक के जैसा होता है. देखने में यह चमकीले छोटे क्रिस्टल के जैसा होता है. इसमें प्राकृतिक रूप से एमिनो एसिड पाया जाता है.

अजीनोमोटो के लाभ एवं नुकसान

कुछ खाद्य पदार्थो में प्राकृतिक रूप से ग्लूटामेट पाया जाता है जैसे टमाटर, समुद्री मछलियों, पनीर और मशरूम में ये प्रचुर मात्रा में पाए जाते है, जिससे इसमें अलग से इसका इस्तेमाल नहीं किया जाता और यह हानिकारक भी नहीं होता है.

इसलिए अगर कोई व्यक्ति स्वस्थ है और उसको इसे खाने से कोई समस्या नहीं है तो उसे इसका सेवन करने में कोई परेशानी नहीं होगी. यू. एस. फ़ूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने एमएसजी के सेवन को सामान्य रूप से सुरक्षित माना है |

  • दृष्टि कमज़ोर बना सकता है।
  • ठंड लगने और कम्पन्न की समस्या हो सकती है।
  • ह्रदय चाप में वृद्धि ला सकता है।
  • सिर दर्द / माइग्रेन की तकलीफ हो सकती है।
  • सांस लेने में दिक्कत हो सकती है।
  • चक्कर आना और उलटी आने की प्रॉब्लम हो सकती है।
  • छाती, कमर और गर्दन में दर्द की शिकायत हो सकती है।

खाने का स्वाद बढ़ाने में मदद- जब भी हम कोई नई डिश ट्राई करते हैं तो सबसे पहले उसमें क्या देखते हैं? अधिकतर लोगों का जवाब होगा- स्वाद। तो अजीनोमोटो भी यही काम करता है। होटल के चाइनीज खाने में जो आपको ‘अलग’ स्वाद मिलता है |

वो अजीनोमोटो के कारण आता है। अजीनोमोटो का स्वाद ही इसकी सबसे बड़ी ताकत है जिससे हर खाने का स्वाद दो गुना हो जाता है। अंतरराष्ट्रीय डिश में भी अजीनोमोटो (एमएसजी) का इस्तेमाल किया जाता है।  चायनीज़ खाने जैसे नूडल्स, सूप आदि कई प्रकार के खाने के व्यंजन में इसका इस्तेमाल किया जाता है।

प्राकृतिक रूप में अजीनोमोटो- अजीनोमोटो या एमएसजी या मोनोसोडियम ग्लूटामेट को कई प्राकृतिक स्रोतों से भी लिया जा सकता है जैसे कि सी -फूड, टमाटर, परमेसन चीज़, मशरूम आदि। अगर आपको मोनोसोडियम का सेवन करना ही है तो प्राकृतिक रूप से भी कर सकते हैं|

मोटापा बढ़ना –

एमएसजी के अधिक सेवन से मोटापे के बढ़ने का खतरा हमेशा बना रहता है हमारे शरीर में मौजूद लेप्टिन हॉर्मोन, हमे भोजन के अधिक सेवन को रोकने के लिए हमारे मस्तिष्क को संकेत देते है. अजीनोमोटो के सेवन से ये प्रभावित हो सकता है जिस वजह से हम ज्यादा भोजन कर जल्द ही मोटापे से ग्रस्त हो सकते है.

बच्चो के लिए हानिकारक :

एमएसजी यानि अजीनोमोटो युक्त खाद्य पदार्थो को बच्चों को बिल्कुल भी नहीं देना चाहिए. अजीनोमोटो का प्रभाव प्रत्येक व्यक्ति पर अलग अलग होता है अगर किसी भी व्यक्ति को इसको खाने के बाद इस तरह के कोई भी लक्षण न दिखे, तो उनके लिए इसका सेवन सुरक्षित है और वो इससे बने खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते है |

अजिनोमोटो का उपयोग

रेडी-टू-ईट फूड :- अधिकतर रेडी- टू-ईट पेक्ड फूड में एमएसजी का इस्तेमाल किया जाता है। पेक्ड फूड में लंबे समय के लिए फ्लेवर से भरपूर बनाए रखने के लिए अजीनोमोटो का इस्तेमाल किया जाता है। अब जब भी आप मज़े से पेक्ड फूड खाएं तो उसमें स्वाद अजीनोमोटो के कारण ही है।

पोटेटो चिप्स:- पोटेटो चिप्स को अधिकतर लोगों के द्वारा पसंद किया जाता है क्योंकि इनका स्वाद ही ऐसा होता है। फ्लेवर से भरपूर बनाने के लिए पोटेटो चिप्स में कई मसालों के साथ एमएसजी का उपयोग भी किया जाता है। इसलिए आलू के चिप्स का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए।

Ajinomoto in Hindi (FAQ):

अजीनोमोटो को हिंदी में क्या कहा जाता है?

हम में से बहुत से लोग अजीनोमोटो तो जानते हैं, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इसका असली नाम एमएसजी (मोनोयोडियम ग्लूटामेट) है|

अजीनोमोटो का दूसरा नाम क्या है?

चाइनीज फूड में पाया जाने वाला मोनोसोडियम ग्लूटामेट (एमएसजी) अब हर घर के किचन में पहुंच गया है।

यह भी पढ़े – 

Aaj ka Tapman kitna hai? आज का तापमान कितना है जाने

Aaj kaun sa day hai? आज कौन सा दिन है जाने हिंदी में

Google Tumhara Number Kya Hai, तुम्हारा नंबर क्या है? जाने

Conclusion / निष्कर्ष:-

आशा करता हु दोस्तों आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आया होगा। और इस पोस्ट मे मेने अजीनोमोटो क्या है फायदे नुकसान जानिए | Ajinomoto in Hindi इसके बारे मे पूरी जानकारी दी हुई है। VPA Full form

इसके लिए आप मेरे इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हो |अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं |

इसी तरह के जानकारी के लिए आप हमारी Website पर Visit करे, और अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों को और अपने सोशल साइट शेयर जरूर करें, धन्यवाद |

Leave a Comment