CID Ka Full Form, CID और CBI में क्या अंतर है जानिए

CID Ka Full Form, नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक नए पोस्ट में इस पोस्ट में हम बात करेंगे CID और CBI क्या है? जानें CID और CBI में अंतर, सीबीआई और सीआईडी के बारे में आम-खास सब लोग जानते हैं. लेकिन बहुत सारे लोग इस बात को लेकर कन्फ्यूज रहते हैं कि आखिर दोनों के कार्य क्या होते हैं |

तो आपको बता दे की CID और CBI भारत की दो अलग अलग जाँच एजेंसी है लेकिन इनके जांच के क्षेत्र भी अलग अलग होते है। बता दे की सीआईडी किसी प्रदेश में होने वाली घटनाओं की जाँच करती है और ये राज्य सरकार के अधीन या राज्य सरकार के आदेश पर काम करती है। वहीँ सीबीआई पूरे देश में होने वाली घटनाओं की जाँच करती है |

और ये केंद्र सरकार, हाईकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट के आदेशों पर काम करती है। हम आपको बताते हैं कि दोनों के कार्य क्या होते हैं और दोनों में अंतर क्या होता है | और इनके फुल फॉर्म भी CID Ka Full Form

CID Ka Full Form, CID क्या है

CID का पूरा नाम Crime Investigation Department होता है. यह एक ऐसी जांच एजेंसी है जो केवल राज्य स्तर के अपराधिक मामलों की जांच करती है यानी राज्य में किसी भी जगह जो भी दंगे, हत्या, अपहरण, चोरी के मामले होते हैं, उनकी जांच की जिम्मेदारी CID की होती है| सीआईडी एक राज्य में पुलिस का जांच और खुफिया विभाग होता है |

इस विभाग को हत्या, दंगा, अपहरण, चोरी इत्यादि की जाँच के काम सौंपे जाते हैं. पुलिस कर्मचारियों को इसमें शामिल करने से पहले विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है |

CID Full Form

C – Crime
I – Investigation
D – Department

(CID) की स्थापना पुलिस आयोग की सिफारिश पर ब्रिटिश सरकार ने 1902 में की थी। CID में भर्ती होने से पहले पुलिस कर्मचारियों को खास तरह की ट्रेनिंग दी जाती है। इसके अलावा इस संस्था को जाँच सौंपने का अधिकार उस प्रदेश की राज्य सरकार और उस राज्य के हाइकोर्ट को होता है।

CBI Ka Full Form, CBI क्या है

सीबीआई का Full Form Central Bureau of Investigation होता है और इसे हिंदी में केंद्रीय जांच ब्यूरो कहा जाता है।

CBI FULL FORM.

C – Central
B – Bureau
I – Investigation

सीबीआई या केंद्रीय जांच ब्यूरो केंद्र सरकार की एक एजेंसी है। बता दे की सीबीआई जाँच एजेंसी की स्थापना साल 1941 में हुई थी, लेकिन इसे अप्रैल 1963 में केंद्रीय जांच ब्यूरो नाम दिया गया था।

सीबीआई का मुख्यालय नई दिल्ली में है। सीबीआई नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर होने वाले क्राइम जैसे की घोटालों, भ्रष्टाचार और हत्या के मामलों के अलावा राष्ट्रीय हितों से संबंधित अपराधों की जाँच भारत सरकार की ऒर से करती है।

CBI केंद्र सरकार की जाँच एजेंसी है इसलिए राज्य सरकार सीबीआई पर कोई प्रभाव नही डाल सकती हैं और न ही किसी प्रकार का दबाव बना सकती है। इसके अलावा सीबीआई की पावर और टीम दोनों सीआईडी से ज्यादा ताकतवर और बड़ी होती है, इसी वजह से बड़े मामलों की जाँच ज्यादातर सीबीआई से कराइ जाती है।

इसके अलावा आपको बता दे की केंद्र सरकार, राज्य सरकार की सहमति से उस राज्य में मामलों की जांच करने का आर्डर सीबीआई को देती है।

CID और CBI में क्या अंतर होता है?

● CID के जाँच दायरा सिर्फ राज्य तक सीमित होता है मतलब ये राज्य में ही जांच करती है, जबकि CBI के जांच का दायरा पूरे देश और विदेश तक होता है।

● CID को राज्य सरकार और हाई कोर्ट के द्वारा मामले सौपें जाते है। जबकि CBI को केंद्र सरकार, हाइकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट के द्वारा मामले सौपें जाते है।

● CID की स्थापना 1902 में ब्रिटिश सरकार के द्वारा की गई थी। जबकि CBI की स्थापना 1941 में की गई थी।

● CID में भर्ती होने के लिए राज्य सरकार द्वारा कराइ जाने वाली पुलिस का एग्जाम पास करनी होती है और उसके बाद अपराध विज्ञान की परीक्षा पास करनी पड़ती है। लेकिन CBI में जाने के लिए आपको एसएससी (स्टाफ सिलेक्शन बोर्ड) द्वारा कराइ जाने वाले एग्जाम को क्लियर करना होता है।

तो इस तरह हमने जाना की CID और CBI में क्या अंतर होता है,

यह भी पढ़े – 

BPO Full Form | BPO क्या है? जानिए हिंदी में

Vi Sim का Data Balance कैसे चेक करे | USSD Code

IMEI Number क्या है और कैसे पता करे ?

Conclusion / निष्कर्ष :-

आशा करता हु दोस्तों आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आया होगा। और इस पोस्ट मे CID Ka Full Form, CID और CBI में क्या अंतर है जानिए इसके बारे मे पूरी जानकारी दी हुई है। इसके लिए आप मेरे इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हो |अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं |

इसी तरह के जानकारी के लिए आप हमारी Website पर Visit करे, और अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों को और अपने सोशल साइट शेयर जरूर करें, धन्यवाद | CID Ka Full Form