एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है जाने: Encryption and Decryption in Hindi

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का आज की हमारे इस नए पोस्ट में आज हम बात करने वाले है एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है जाने: Encryption and Decryption in Hindi. Encryption और Decryption के बीच में क्या अंतर होता हैं?

इंटरनेट पर हम हर रोज अपने पर्सनल डेटा और इनफार्मेशन को सेंड और रिसीव करते है। हमारे उस डेटा को कोई unauthorized पर्सन एक्सेस करके उसके साथ छेड़छाड़ न कर सके इसके लिए Encryption और  Decryption का मेथड इस्तेमाल किया जाता है।

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है जाने: Encryption and Decryption in Hindi

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन एक ऐसी बिधि है जिसमे डाटा को इस प्रकार Encrypt और Decrypt किया जाता है जिसे केवल सेन्डर और रिसीवर ही रीड कर सकते है और इस तरह आपकी पर्सनल इनफार्मेशन को कोई तीसरा पर्सन एक्सेस नहीं कर सकता।

Encryption और Decryption के बीच मुख्य अंतर यह है की Encryption किसी मैसेज को इस प्रकार से कन्वर्ट कर दिया जाता है किस उसे कोई रीड नहीं कर सकता, जबकि Decryption एक प्रकार से Encrypted data को फिर से उसे ओरिजिनल मैसेज में डिक्रिप्ट करता है ताकि उसे रीड किया जा सके।

इसके आलावा भी Encryption और Decryption के बीच कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको हम  Difference Table के माध्यम से नीचे जानेंगे लेकिन उससे पहले हम Encryption और Decryption किसे कहते है इसको अच्छे से जान लेते है।

What is Encryption in Hindi-Encryption किसे कहते है?

Encryption नेटवर्क में कम्युनिकेशन के दौरान Users  की संवेदनशील और निजी जानकारी जैसे की passwords, identity information, credit card details को सुरक्षित रखने के लिए एक Technique है। दूसरे शब्दों में कहे तो Encryption एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें एक सेन्डर किसी मैसेज को Encrypt करके उसको दूसरे रूप में परिवर्तित करता है और उसके बाद उस Encrypted मैसेज को नेटवर्क पर सेन्डर के पास भेजता है।

इस प्रक्रिया को करने के लिए सेन्डर को Encryption Algorithm और Key की आवश्यकता होती है ताकि वह किसी Plaintext (original message) को Ciphertext (encrypted message) मैसेज में बदल सके।

Plaintext (original message) वह डेटा है जिसे ट्रांसमिशन के दौरान प्रोटेक्ट करने की आवश्यकता होती है। Ciphertext ओरिजिनल मैसेज का Encrypted रूप होता है Conventional Encryption Methods में Encryption और Decryption के लिए एक ही Key का इस्तेमाल किया जाता है।  Conventional methods को दो भागो में डिवाइड किया गया है Character level encryption और Bit level Encryption.

What is Decryption in Hindi-Decryption किसे कहते है?

Decryption एक ऐसी प्रक्रिया है जो Encrypted Data को उसके ओरिजिनल फॉर्मेट में कन्वर्ट करता है। दूसरे शब्दों में कहे तो यह एन्क्रिप्टेड डेटा को एक ऐसे रूप में परिवर्तित करने की एक प्रक्रिया है जो मानव या कंप्यूटर द्वारा पढ़ा और समझा जा सके  है। Decryption की प्रक्रिया मैसेज रिसीवर के मशीन पर होती है।

Ciphertext को original plaintext में बदलने के लिए रिसीवर एक डिक्रिप्शन एल्गोरिथ्म और Key का उपयोग करता है।  Encryption और Decryption के लिए उपयोग की जाने वाली Key क्रिप्टोसिस्टम के प्रकार के आधार पर समान और असमान हो सकती है।

Encryption और Decryption का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

  • Encryption और Decryption  का उपयोग करने के लिए महत्वपूर्ण कारण हैं जो की इस प्रकार है।
  • यह हमारे Confidential Data जैसे की User ID और Passwords को सुरक्षित रखता है।
  • यह हमारी निजी जानकारी की गोपनीयता प्रदान करता है
  • आपको यह सुनिश्चित करने में मदद करता है कि Information या फ़ाइल को परिवर्तित नहीं किया गया है
  • इंटरनेट पर होने वाले कम्युनिकेशन के लिए सहायक है जहां एक हैकर आसानी से आपके डेटा को एक्सेस नहीं कर सकता।
  • यह इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि यह आपको डेटा को सुरक्षित रखने में मदद करता है जिसे आप नहीं चाहते कि कोई और उसे एक्सेस करे।

जो original data या information होती है उसे हम plain text कहते है और उसे cipher text में encrypt कर दिया जाता है।Decryption एक ऐसी प्रक्रिया जिसमें encrypted data को वापस original data में convert किया जाता है।

  • Symmetric Key Encryption और इसको Private key Cryptography भी कहते है| Symmetric Key Encryption में दोनों encryption और decryption दोनों ही एक ही key के इस्तेमाल से हो जाता है।

कैसे होता है यह process?

सबसे पहले जो file आपको भेजनी है वह एन्क्रिप्शन form में transfer होती है| जो की unreadable form में होती है| अब इस file को key के द्वारा lock कर encrypt कर देता है तथा recipient को भेज दिया जाता है| जब recipient को यह file प्राप्त होती है वह key का इस्तेमाल करता है तथा उस unreadable text को वह पुनः key के मदद से decrypt कर readable बना लेता है |

क्या है Encryption और decryption के फायदे ? Benefits Of Encryption And decryption in Hindi

  • Encryption से data की security बढ़ जाती है | Network पर बैठे हुए hackers के द्वारा ये hack होने से आसानी से बच जाता है|
  • Authentication उसी को provide करता है जिसे sender चाहता है कि वही वह data को access कर सके|

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है,फायदे और नुकसान क्या है ?

  • इसका यह drawback है कि अगर अप password भूल गए तो आप इसमें पड़ी हुई जानकारी को प्राप्त नहीं कर सकते है|

हलाकि Cryptography तो समय की मांग है क्युकि हम computer की किसी भी परेशानी से लड़ सकते है पर अगर हमारा data lost या चोरी होता है तो वह हमारे लिए एक बड़ा नुक्सान होगा तो इसके लिए backup ओर cryptography एक महत्वपूर्ण योगदान है data को secure करने में ।

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है (FAQ):

Encryption का मतलब क्या होता है?

एन्क्रिप्ट या फिर एन्क्रिप्शन एक प्रोसेस में जिसमे आपके डाटा को एक ऐसे फॉर्म में कन्वर्ट (Convert) कर देता है जिसे पढना जा फिर समझना लगभग एक आम इंसान को मुस्किल हो जाता है यहाँ तक की हैकर को डाटा या फाइल को एन्क्रिप्ट करने के बाद उसे रीड (Read) करना या फिर एक्सेस करना बहोत ही मुस्किल हो जाता है|

इंक्रिप्शन तथा डिक्रिप्शन से आप क्या समझते हैं?

इन दोनों Encryption और Decryption क्या है में जो मुख्य अंतर है वो ये की Encryption में message को convert किया जा सकता है एक बहुत ही unintelligible form में जिसे की बिना decrypt किया समझा नहीं जा सकता है. वहीँ Decryption का मतलब होता है वो प्रक्रिया जिससे original message को encrypted data से recover किया जाता है|

यह भी पढ़े – 

Aaj ka Tapman kitna hai? आज का तापमान कितना है जाने

Aaj kaun sa day hai? आज कौन सा दिन है जाने हिंदी में

Google Tumhara Number Kya Hai, तुम्हारा नंबर क्या है? जाने

Conclusion / निष्कर्ष:-

आशा करता हु दोस्तों आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आया होगा। और इस पोस्ट मे मेने एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है जाने: Encryption and Decryption in Hindi इसके बारे मे पूरी जानकारी दी हुई है।

इसके लिए आप मेरे इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हो |अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं |

इसी तरह के जानकारी के लिए आप हमारी Website पर Visit करे, और अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों को और अपने सोशल साइट शेयर जरूर करें, धन्यवाद |

Leave a Comment