महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था | Gandhi Ka Janm Kab Hua Tha

महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था, हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का आज की हमारे इस नए पोस्ट में आज हम बात करने वाले है महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था | Mahatma Gandhi Ka Janm Kab Hua Tha. बहुत से लोग गूगल पर सर्च करते हैं कि महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था |

महात्मा गांधी का जन्म स्थान कहां है महात्मा गांधी के पिता का नाम क्या है महात्मा गांधी की माता का नाम क्या है महात्मा गांधी का जन्म स्थान अथवा महात्मा गांधी का पूरा नाम क्या है |

महात्मा गांधी को सत्य और अहिंसा के रूप में जाना जाता है महात्मा गांधी ने भारत को स्वतंत्र प्रदान करने में सबसे महत्वपूर्ण सहयोग प्रदान किया था | आज के समय में महात्मा गांधी के विचार भले ही विलुप्त होते जा रहे हैं |

महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था | Mahatma Gandhi Ka Janm Kab Hua Tha

Mahatma Gandhi जिन्हे सत्य और अहिंसा के मिसाल के रूप में जाना जाता है। महात्मा गाँधी भारत के स्वतंत्रता संग्राम के नायक थे।

महात्मा गाँधी के विचार आज भी जीवित हैं. और आज भी लोग कठिनाइयों की घड़ी में गाँधीजी को याद करते हैं. गाँधी जी ने स्वंत्रता सग्राम में प्रत्येक धर्म, जाति और सम्प्रदाय को एक साथ बाधने का कार्य किया. गाँधीजी को लोग बापू के नाम से भी जानते हैं |

आज भले ही गाँधी जी हमारे बीच नहीं है लेकिन उनके विचार और उनके काम हमें हमेसा प्रेणना देती रहती है। महात्मा गाँधी जी एक ऐसे महापुरुष थे जिन्होंने अनेक कठिनाई आने के बावजूद अहिंसा का मार्ग नहीं छोड़े और हमेसा सत्य और अहिंसा के मार्ग में ही चल के अपना सभी कार्य किया।

महात्मा गांधी ने किसी भी समुदाय को बांटा नहीं था बल्कि हर समुदाय के लोगों को अपना था और एकजुट होकर अंग्रेजों को भारत से निकाला था इसमें महात्मा गांधी को कठिनाइयों का सामना भी करना पड़ा था लेकिन वह डरे नहीं और हमारे भारत को आजाद कराया |

महात्मा गांधी का जन्म कहां हुआ था 

महात्मा गाँधी का जन्म 2 अक्टूबर, 1869 को गुजरात के पोरबन्दर में हुआ था. इनके माताजी का नाम पुतलीबाई और पिताजी का नाम करमचन्द गाँधी था. गांधीजी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गाँधी थ |

गांधी जी के पिताजी अंग्रेजो के समय में पोरबंदर, राजकोट और बांकानेर के दीवान थे. गाँधीजी का परिवार धार्मिक प्रवति का था. इनका परिवार वैष्णव धर्म को मानता था. अंत अहिंसा और शांति का पाठ इन्होने बचपन में ही अपने परिवार और घर में सिखा था |

महात्मा गांधी जी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था और उनके पिता का नाम करमचंद गांधी था | इसी कारण से दोनों का नाम मिलाकर मोहनदास करमचंद गांधी पहले के जमाने में लोग अपने पिता का नाम पीछे लगाते थे |

महात्मा गांधी आजादी के लिए संघर्ष

महात्मा गांधी ने अंग्रेजो के खिलाफ नमक सत्याग्रह आंदोलन 1930 में किया था जो कि नमक के ऊपर टैक्स के विरोध में था यह एक ऐसा ऐतिहासिक आंदोलन था जिसमें महात्मा गांधी जी के साथ सैकड़ों लोगों ने आंदोलन किया था सन 1942 में अंग्रेजों का विरोध करते हुए अंग्रेज भारत छोड़ो आंदोलन की घोषणा करी थी जिसमें पूरे देश ने गांधी जी का साथ दिया था |

इन बातों से यह पता चलता है कि एक अकेला आदमी भी अंग्रेजी सत्ता को हिला सकता और वह गांधीजी में था इसीलिए गांधी जी को राष्ट्रपिता के रूप में संबोधित किया जाता है इस आंदोलन के दौरान गांधीजी ने कई रूप से उठाई थी |

सन 1915 में भारत आए तथा स्वंत्रता की लड़ाई में कूद गए. उन्होंने किसानो, मजदूरों और शहरी श्रमिको को अत्यधिक कर और भेदभाव के विरुद्ध आवाज उठाने के लिए एकत्रित किया |

गाँधीजी ने अत्याचार का विरोध करते हुए सन 1921 में भारतीय राष्ट्रिय कांग्रेस की भाग-दौड़ संभाली और उसके बाद समाज में महिलाओ के स्तर, धार्मिक और जातिक एकता, तथा अंग्रेजी शासन के शोषण के खिलाफ पुरे देश में जगह जगह कार्यक्रम किए. जिससे पूरा देश एक सूत्र में बंधता चला गया |

गाँधी के सिध्दांत

गाँधी जी ने जीवनभर सत्य और अहिंसा का पाठ पढ़ाया. तथा स्वयं भी सदैव सत्य और अहिंसा के रस्ते पर चले. गाँधीजी ने अपना पूरा जीवन सत्य की ख़ोज में लगा दिया था. गांधीजी ने सदैव अपनी गलतियों से सिखा. और अपने ऊपर प्रयोग करते रहे |

महात्मा गाँधी के राजनितिक गुरु गोपाल कृष्ण गोखले थे। जो की एक महान स्वतंत्रता सेनानी होते हुए एक मंझे हुए राजनेता भी थे। उन्होंने महात्मा गाँधी जी को देश के लिए लड़ने के लिए प्रेरणा भी दिए थे। इस्लिये गोपाल कृष्ण गोखले को महात्मा गाँधी जी के राजनितिक गुरु कहा जाता है।

Gandhi Ji ki मिर्त्यु कब हुई थी

भारत के राष्ट्रपिता की और हमारे प्रिय बापू, महात्मा गाँधी जी की मृत्यु 30 जनवरी 1948 में हुए थी। उनकी हत्या की गयी थी। जब महात्मा गाँधी जी हमेसा की तरह दिल्ली में स्थित बिड़ला भवन में प्रार्थना करने जा रहे थे।

उसी समय नाथूराम गोडसे ने बापू के चरणों को छूने के बहाने निचे झुके और फिर पिस्तौल निकाल कर उनको तीन गोली मार दी। जिससे गाँधी जी निचे की तरफ गिरे और उसी वक़्त उनकी मृत्यु हो गयी।

इस पोस्ट (गाँधी जी का जन्म कब हुआ था – गाँधी जी का जन्म कहा हुआ था  महात्मा गाँधी का पूरा नाम क्या था  ) को लिखने का हमारा उद्देश्य आपको गाँधीजी के जीवन से परिचय कराना हैं |

महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था, से जुड़े कुछ सवाल (FAQ):

गांधी जी का जन्म कहां हुआ था कब हुआ था?

2 October 1869, Porbandar

Mahatma Gandhi Ki Patni Ka Naam Kya Hai?

म्हणता गाँधी के पत्नी का नाम कस्तूरबा गाँधी था।

Mahatma Gandhi Ke Rajnitik Guru Kaun The?

महात्मा गाँधी के राजनितिक गुरु गोपाल कृष्ण गोखले थे।

Gandhi Ji ki Mrityu Kab Hui Thi?

महात्मा गाँधी जी की मृत्यु 30 जनवरी 1948 में हुए थी।

गांधी जी पहली बार जेल कब गए थे?

इतिहासकारों के मुताबिक दमनकारी रौलट एक्ट के खिलाफ सत्याग्रह करने पर गांधी जी को दस अप्रैल 1919 को पलवल रेलवे स्टेशन पर ब्रिटिश पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

गांधी जी की उम्र कितनी थी?

78 वर्ष (1869–1948)

गांधी जी के दादा का नाम क्या था?

उत्तमचंद गांधी

यह भी पढ़े –

Aaj ka Tapman kitna hai? आज का तापमान कितना है जाने

Aaj kaun sa day hai? आज कौन सा दिन है जाने हिंदी में

Google Tumhara Number Kya Hai, तुम्हारा नंबर क्या है? जाने

Conclusion / निष्कर्ष:-

आशा करता हु दोस्तों आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आया होगा। और इस पोस्ट मे मेने महात्मा गाँधी का जन्म कब हुआ था | Gandhi Ka Janm Kab Hua Tha इसके बारे मे पूरी जानकारी दी हुई है। Mahatma gandhi ki jivan parichay

इसके लिए आप मेरे इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हो |अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं |

इसी तरह के जानकारी के लिए आप हमारी Website पर Visit करे, और अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों को और अपने सोशल साइट शेयर जरूर करें, धन्यवाद |

Leave a Comment