PCS Full Form: PCS का Full Form क्या है जाने हिंदी में

PCS Full Form, हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का आज के इस नए पोस्ट में आज के इस पोस्ट में हम बात करने वाले है| PCS Full Form: PCS का Full Form क्या है जाने हिंदी में, आज के समय में प्रत्येक व्यक्ति सरकारी नौकरी करना चाहता है,

इसके लिए छात्र बहुत ही परिश्रम करते है | इस परिश्रम के बाद भी कुछ छात्र सफल नहीं हो पाते है | इसका मुख्य कारण सही जानकारी प्राप्त न होना है |

आज हम आपको PCS Officer कैसे बने और PCS Officer Salary कितनी होती हैं बने व इसके लिए क्या क्या योग्यता होनी चाहिए इसके बारे में बताने वाले हैं आज के समय में हर युवा की पहली पसंद होती हैं की वो किसी भी सरकारी पद पर अधिकारी की नौकरी प्राप्त करे

PCS Full Form: PCS का Full Form क्या है?

PCS यानि Provincial Civil Services, उत्तर प्रदेश सरकार की कार्यकारी शाखा के Group A राज्य सेवा के तहत प्रशासनिक सिविल सेवा है। PCS Officers की भर्ती उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) द्वारा आयोजित राज्य सिविल सेवा परीक्षा द्वारा की जाती है। कानून व्यवस्था और राजस्व प्रशासन के रखरखाव के लिए, पीसीएस अधिकारी विभिन्न स्तरों जैसे जिला, मंडल और उप-मंडल में पदों को संभालते हैं।

PCS Full Form In English

“Provincial Civil Services”

PCS Full Form In Hindi:

“प्रांतीय सिविल सेवा

(PCS) एक राज्य द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा है | इस परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को SDM, DSP, ARTO, BDO, District Minority Officer, District Food Marketing Officer, Assistant Commissioner, Business Tax Officer के पद पर नियुक्ति प्रदान की जाती है |

EDUCATIONAL QUALIFICATION

  • इस परीक्षा में सम्मिलित होनें के लिए अभ्यर्थी के पास मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है |
  • अभ्यर्थी की आयु 21 वर्ष से 40 वर्ष के बीच में होनी चाहिए |
  • वह भारत का नागरिक हो |
  • आरक्षित अभ्यर्थी को नियमानुसार छूट प्रदान की जाती है |

PCS बनाने के लिए उम्र सीमा

PCS Officer  बनाने के लिए सभी वर्गों के लिए अलग अलग उम्र सीमा रखी गयी हैं व इसमें उम्मीदवार की आयु न्यूनतम 21 वर्ष व अधिकतम 40 वर्ष रखी गयी हैं जिसमे ST/SC व OBC को उम्र सीमा में छूट दी जाती है|

यह परीक्षा तीन स्तरों पर आयोजित की जाती है प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार। सभी परीक्षाओं का एक सिलेबस होता है और हर एक परीक्षा का एक निर्धारित सिलेबस होता है जो परीक्षा को उत्तीर्ण करने में आपकी मदद करता है, क्योंकि इसकी मदद से आप यह जान जायेंगे कि, आपको PCS Ki Taiyari Ke Liye Subject कौन सा पढना है।

1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

PCS की प्रारंभिक परीक्षा में राज्य सेवा आयोग ने संशोधन किया है अभी तक इसमें सामान्य अध्ययन के 200-200 अंक के पेपर होते है लेकिन अब 200-200 अंकों के चार पेपर आएँगे। मतलब अब सामान्य अध्ययन का पेपर 800 अंकों का होगा।

जबकि इसमें हिंदी और निबंध के प्रश्न पत्रों में किसी भी तरह का संशोधन नही किया गया है, यह पहले की तरह 150-150 अंकों का ही रहेगा।

ऑब्जेक्टिव सब्जेक्ट्स के अंतर्गत अभी तक दोनों Subjects के 200-200 अंकों के दो-दो प्रश्न पत्र होते थे, संशोधन के बाद इसमें एक ही ऑब्जेक्टिव सब्जेक्ट्स होगा। ऑब्जेक्टिव सब्जेक्ट्स में 200-200 अंकों के दो ही प्रश्न पत्र रह जायेंगे, जिसमें चिकित्सा विज्ञान को सम्मिलित किया गया है।

प्रश्न पत्र: 1

सामान्य अध्ययन

  • राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएं
  • प्राचीन भारत
  • मध्यकालीन भारत
  • आधुनिक भारत
  • भारतीय धार्मिक आन्दोलन
  • भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन

भारत और विश्व भूगोल

भारतीय राज व्यवस्था और प्रशासन संविधान

प्रश्न पत्र: 2

  • सामान्य तर्कशक्ति अध्ययन
  • कम्युनिकेशन स्किल्स और इंटरपर्सनल स्किल्स
  • तर्कशक्ति और विश्लेषण क्षमता
  • निर्णय क्षमता और समस्या हल
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • 10वी क्लास के स्तर तक की प्रारंभिक गणित, अंक-गणित, बीज-गणित, ज्यामिति और सांख्यिकी
  • 10वी क्लास के स्तर तक की सामान्य अंग्रेजी

मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

मुख्य परीक्षा में संशोधन के बाद इस Pattern के आधार पर परीक्षाओं का आयोजन किया जायेगा।

  • हिंदी – 150 अंक
  • निबंध – 150 अंक
  • सामान्य अध्ययन 1 – 200 अंक
  • जनरल स्टडीज (सामान्य अध्ययन 2) – 200 अंक
  • सामान्य अध्ययन 3 – 200 अंक
  • जनरल स्टडीज (सामान्य अध्ययन 4) – 200 अंक
  • वैकल्पिक विषय पेपर (Objective Subject) 1 – 200 अंक
  • वैकल्पिक विषय पेपर 2 – 200 अंक

PCS exams के लिए subjects

Hindi compulsory (सामान्य हिंदी)

Optional subjects (वैकल्पिक विषय)

  1. Zoology (जीव विज्ञान)
  2. Botany (वनस्पति विज्ञान)
  3. Commerce & accountancy (वाणिज्य और लेखा)
  4. Electrical engineering (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग)
  5. Mechanical engineering (मैकेनिकल इंजीनियरिंग)
  6. Civil engineering (सिविल इंजीनियरिंग)
  7. Social work (सामाजिक कार्य)
  8. Political science (राजनीति विज्ञान)
  9. Anthropology (मानवशास्त्र)
  10. Management (प्रबन्धन)
  11. Statistics (सांख्यिकी)

PCS officer Salary

एक PCS Officer कि Salary Minimum Yearly Rs. 78,800 से लेकर Maximum Rs. 2,18,200 तक हो सकती हैं।

PCS Full Form से जुड़े कुछ सवाल (FAQ):

PCS में कौन कौन सी पोस्ट होती है?

  • सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट (SDM)
  • पुलिस उपाधीक्षक (DSP)
  • खंड विकास अधिकारी (BDO)

पीसीएस से क्या क्या बनते हैं?

RTO, SDM, BDO,DSP, जिला अल्पसख्यक अधिकारी, जिला खाद विपणन अधिकारी आदि post पर नौकरी के अवसर दिए जाते हैं जो की उनकी मेरिट के अनुसार दिए जाते है|

PCS अधिकारी कैसे बने?

PCS ऑफिसर बनने के लिए आपके पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बेचलर में ग्रेजुएशन डिग्री होनी चाहिए. आपकी उम्र कम से कम 21 वर्ष और ज्यादा से ज्यादा 40 वर्ष होनी चाहिए |

PCS की सैलरी कितनी होती है?

67,700 से रु. 1,60,000 तक होता है|

यह भी पढ़े – 

Conclusion / निष्कर्ष:-

आशा करता हु दोस्तों आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आया होगा। और इस पोस्ट मे मेने PCS Full Form: PCS का Full Form क्या है जाने हिंदी में  इसके बारे मे पूरी जानकारी दी हुई है।

इसके लिए आप मेरे इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते हो |अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं |

इसी तरह के जानकारी के लिए आप हमारी Website पर Visit करे, और अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों को और अपने सोशल साइट शेयर जरूर करें, धन्यवाद

Leave a Comment